छठी मैया - निहारिका झा

 | 
pic

आये छठी तिहार , करो पूजा स्वीकार।

छठी मैया शरण हम आन पड़े।

करते विनती अपार, मैया सुन लो पुकार

हम शरण तुम्हारी आन पड़े।1।।

देते सूरज को अर्घ्य ,करते निर्जल हैं व्रत।

तुमसे करते अरज , मैया करना सहाय।

 हम शरण तुम्हारी आन पड़े।।2।।

धूप दीप जलायें, भोग फल हैं लगाएं

मैया तुमको मनाएं, तुमसे विनती अपार

हम शरण तुम्हारी आन पड़े।।3।।

मांग लाली रहे,कुल सभी का भरे,।

कष्ट सबके हरो ,माता व्याधि हरो।

मैया सुन लो पुकार।

हम शरण तुम्हारी आन पड़े।।4।।

- निहारिका झा, खैरागढ़ राज.(36 गढ़)