विपक्ष ने बेरोजगारी का मुद्दा उठा, किया सदन से वॉकआउट

 | 
politics

Vivratidarpan.com, Dehradun- प्रदेश में बेरोजगारी को मुद्दा बनाकर विपक्ष ने सदन से वॉकआउट कर दिया। जबकि सरकार का कहना है कि उन्होंने केवल रोजगार दिए हैं , बल्कि स्वरोजगार के तहत भी तमाम योजनाओं के माध्यम से युवा लाभान्वित हो रहे हैं।

बुधवार को कार्य स्थगन के तहत नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने प्रदेश में बेरोजगारी का मुद्दा उठाया। उन्होंने सीएमआईई की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहाकि प्रदेश में बेरोजगारी की दर 22.3 प्रतिशत है 2017 में जिस डबल इंजन की सरकार ने युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था, वह वादा भूल गई। मनरेगा कर्मी, स्वास्थ्य विभाग में 108 कर्मचारी, पंचायतों के कर्मचारियों आंगनबाड़ी, आशा, ग्राम प्रहरी आदि को जोड़ते हुए उन्होंने कहा कि हालात बदतर हैं तीन सीएम गए लेकिन युवाओं को रोजगार नहीं मिला उन्होंने कहा कि परिवहन निगम में कर्मचारियों का चयन आयोग करके दे रहा है।  लेकिन निगम उन्हें नियुक्ति ही नहीं दे रहा है। केवल केंद्र बल्कि राज्य में सरकार रोजगार देने में विफल हुई है।