राष्ट्रभाषा भाषा का दर्जा मिले हिंदी को : संगम त्रिपाठी  

 | 
uk

Vivratidarpan.com ,जबलपुर - विश्व हिंदी दिवस 10 जनवरी 2022 को जबलपुर मध्यप्रदेश से राजघाट दिल्ली तक प्रेरणा हिंदी प्रचार रथयात्रा आयोजित की जा रही है। हिंदी ही एक मात्र भाषा है जो देश को एक सूत्र में जोड़ती है और आज हिंदी में उच्च शिक्षा हर क्षेत्र में मिलें ऐसे सार्थक प्रयास सरकार द्वारा किए जा रहे हैं जो कि आत्मबल प्रदान करते हैं। सम्पूर्ण शिक्षा प्रणाली में सुधार की दिशा में कार्य हो रहे हैं जो आत्मनिर्भर बनाने में मदद करेंगे ऐसी परिकल्पना पर कार्य तेजी से आगे बढ़े जो सर्वजन हिताय सिद्ध होंगे।

प्रेरणा हिंदी रथयात्रा के सूत्रधार कवि संगम त्रिपाठी ने कहा कि हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं जो कि बहुत ही गौरवपूर्ण बात है व इस ऐतिहासिक महोत्सव में हिंदी को राष्ट्रभाषा का दर्जा मिले यह अपने आप में बहुत ही खुशी की बात होगी। आज हम हिंदी को गरिमा नहीं प्रदान कर पाए तो कभी नहीं कर पायेंगे क्योंकि वर्तमान सरकार संवेदनशील व राष्ट्रधर्मी है और ऐसे समय में हिंदी को सम्मान मिले ऐसी आशा और अभिलाषा मेरे मन में है।

आप सभी साहित्य मनीषियों, कवियों, पत्रकारों व बुद्धिजीवियों के संबल से ही यह गौरवगाथा लिखी जा सकती हैं यह मेरा विश्वास है। प्रेरणा हिंदी रथयात्रा के संयोजक श्री राम चन्द्र प्रसाद कर्ण जी ने आव्हान किया है कि आप सभी प्रेरणा के इस यज्ञ में अपना अमूल्य योगदान प्रदान कर हिंदी को संबल प्रदान करने किये जा रहें इस राष्ट्रीय कार्य के साक्षी बने। (सौजन्य से - कवि संगम त्रिपाठी  संपर्क 9407854907)